Pradhan Mantri Awas Yojana (PMAY) Scheme Detail.

Pradhan Mantri Awas Yojana (PMAY) एक सरकारी होम लोन योजना है जिसे जून 2015 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सस्ते घर प्रदान करने उद्देश्य से शुरू किया था। इसका उद्देश्य 31 मार्च, 2022 तक योग्य परिवारों / लाभार्थियों को पानी के कनेक्शन, शौचालय की सुविधा और 24 घंटे बिजली की आपूर्ति के साथ 2 करोड़ से अधिक सस्ते घर प्रदान करना है।

PMAY Types

Pradhan Mantri Awas Yojana (PMAY) को दो भागों में बाटा गया है:

  • Pradhan Mantri ग्रामीण (Rural) आवास योजना (PMAY-G)
  • Pradhan Mantri शहरी (Urban)आवास योजना (PMAY-U)

Pradhan Mantri ग्रामीण (Rural) आवास योजना (PMAY-G)

प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना का उद्देश्य ग्रामीण गरीबों की आवासीय आवश्यकताओं को पूरा करना है। इसका उद्देश्य शहरों को छोड़कर, भारत के ग्रामीण क्षेत्रों में कच्चे घरों में रहने वाले परिवारों को सभी बुनियादी सुविधाओं, जैसे बिजली की आपूर्ति, स्वच्छता, आदि पानी की सुविधा के साथ-साथ आर्थिक सहायता या पक्के मकान प्रदान करना है।

Pradhan Mantri शहरी (Urban)आवास योजना (PMAY-U)

प्रधानमंत्री शहरी आवास योजना का उद्देश्य शहर में गरीबों की आवास आवश्यकताओं को पूरा करना है।इस योजना के तहत लगभग 4,331 शहर और कस्बे चुने गए हैं। यह योजना इन 3 चरणों में प्रगति की दिशा में काम करेगी:

1: इसमें 1 अप्रैल 2015 और मार्च 2017 के बीच चुनिंदा राज्यों / केंद्र शासित प्रदेशों में 100 शहरों को शामिल करता है।

2: इस चरण में अप्रैल 2017 और मार्च 2019 के बीच 200 अतिरिक्त शहर शामिल हैं।

3: इसमें अप्रैल 2019 और मार्च 2022 के बीच शेष बाकी शहरों को शामिल किया गया है।

आवास और शहरी गरीबी उन्मूलन मंत्रालय में राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों से संसाधन समर्थित मांग होने पर पहले के चरणों
में अतिरिक्त शहरों को शामिल किया जा सकता है।

प्रधानमंत्री शहरी आवास योजना शहरी क्षेत्रों में ‘Housing for all’ उद्देश्य को पूरा करने के अपने लक्ष्य के पास है। वर्ष 2022 की समयसीमा वाली इस योजना को अब तक 88 लाख से अधिक घरों की मंज़ूरी मिल चुकी है। 10 राज्यों के 865 प्रस्तावों के तहत कुल 2.99 लाख घरों को मंजूरी दी गई है। उपर्युक्त नए प्रस्तावों को मंजूरी देने के साथ PMAY-U के तहत घरों की मंजूरी अब 1.12 करोड़ की वैध मांग के मुकाबले 88.16 लाख है।

Pradhan Mantri Awas Yojana (PMAY) Features – योजना की विशेषताएं

प्रधानमंत्री आवास योजना योजना की मुख्य विशेषताएं इस प्रकार हैं:

  • Slum Rehabilitation के लिए भारत सरकार द्वारा प्रति घर के लिए 1 लाख रु. की सब्सिडी
  • पार्टनरशिप और लाभार्थी के नेतृत्व वाले व्यक्तिगत घर निर्माण / विस्तार में किफायती आवास की हर यूनिट लिए 1.5 लाख रू. की केंद्रीय सहायता
  • हाउसिंग लोन पर 6.5% तक की ब्याज सब्सिडी
  • ब्याज सब्सिडी अधिकतम 20 वर्षों के लोन या आवेदक द्वारा लिए गए लोन अवधि पर लागू होती है, जो भी कम हो
  • महिलाओं को घर के मालिक या सह-आवेदक बनने के लिए प्रोत्साहित करती है
  • Senior Citizen और विकलांगों के लिए ग्राउंड फ्लोर अनिवार्य
  • घरके निर्माण के लिए टिकाऊ और पर्यावरण के अनुकूल मैटेरियल का इस्तेमाल अनिवार्य
  • घर/ फ्लैट की क्वालिटी National Building Code (NBC) और National Disaster Management Authority (NDMA) के दिशा-निर्देशों के अनुसार होगी
  • घर निर्माण से पहले भवन डिजाइन पर स्वीकृति अनिवार्य है
  • लोन राशि या प्रॉपर्टी के मूल्य की कोई सीमा नहीं

PMAY Beneficiaries List – लाभार्थियों की लिस्ट

प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत लाभार्थियों की लिस्ट इस प्रकार है:

  • Economically Weaker Section (EWS) – आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग : 3 लाख रु. तक की वार्षिक आय वाले परिवार
  • Low Income Group (LIG) : 3 लाख से 6 लाख रु. के बीच वार्षिक आय वाले परिवार
  • Middle Income Group I (MIG I) : 6 लाख से 12 लाख रु. के बीच वार्षिक आय वाले परिवार
  • Middle Income Group II (MIG II) : 12 से 18 लाख रु. के बीच वार्षिक आय वाले परिवार
  • EWS और LIG आय समूहों के तहत आने वाली महिलाएं
  • अनुसूचित जाति (SC), अनुसूचित जनजाति (ST), और अन्य पिछड़ा वर्ग (OBC)

PMAY Points to Note

  • लाभार्थी परिवार में पति, पत्नी, अविवाहित बेटे और / या बेटियां शामिल हैं।
  • वैवाहिक स्थिति के बावजूद परिवार के वयस्क कमाने वाले सदस्य को एक अलग परिवार के रूप में माना जा सकता है, बशर्ते कि वह भारत में अपने नाम पर पक्के घर का मालिक न हो।
  • विवाहित कपल के मामले में पति या पत्नी दोनों में से कोई एक ही घर के मालिक बनने के योग्य होगा।
  • 21 वर्ग मीटर से कम निर्मित क्षेत्र के पक्के घर वाले परिवार के वयस्क कमाई वाले सदस्य को 30 वर्ग मीटर तक की मौजूदा आवास इकाइयों की वृद्धि के लिए शामिल किया जा सकता है।यदि भूमि की उपलब्धता / जगह की कमी या किसी अन्य कारण से विस्तार संभव नहीं है, तो उसे PMAY (U) के तहत कहीं और मकान मिल सकता है।

PMAY Eligibility Criteria – प्रधानमंत्री आवास योजना के लिए योग्यता

  • लाभार्थी परिवार के किसी भी सदस्य के पास भारत में पक्का घर नहीं होना चाहिए।
  • लाभार्थी परिवार भारत सरकार / राज्य सरकार की किसी भी आवासीय योजना का लाभ ना ले रहा हो।
  • लाभार्थी परिवार को किसी भी प्राथमिक लोन संस्थान (PLI) से PMAY सब्सिडी का लाभ नहीं उठाना चाहिए।
  • होम लोन लेने वाले, जिन्होंने सब्सिडी का लाभ उठाया था, लेकिन लोन के दौरान होम लोन बैलेंस ट्रांसफर के तहत दूसरे बैंक में ट्रांसफर कर दिया हो वह फिर से लाभ का क्लेम नहीं कर सकता।
  • MIG केतहत लाभार्थी परिवारों को लाभ प्राप्त करने के लिए अपना आधार नंबर देने की आवश्यकता है
  • EWS वर्ग के तहत लाभार्थियों को योजना के तहत पूर्ण सहायता मिलती है, जबकि MIG और LIG वर्ग के लोग केवल PMAY के तहत Credit Linked Subsidy Scheme ( CLSS) के लिए योग्य हैं।

Pradhan Mantri Awas Yojna के कारक

Pradhan Mantri Awas Yojana (PMAY) में 4 प्रमुख कारक हैं। वर्ष 2022 तक सभी के लिए आवास मिशन निम्नलिखित कार्यक्रम के माध्यम से शहरी गरीबों की आवास आवश्यकताओं को पूरा करना चाहता है:

  • Promotion of Affordable Housing for weaker section of the society through Credit Linked Subsidy (CLSS): CLSS PMAY कारक इस योजना के लिए योग्य लोगों को होम लोन ब्याज दरों पर सब्सिडी प्रदान करता है।PMAY सब्सिडी दर, सब्सिडी राशि, अधिकतम लोन राशि और अन्य LIG, EWS और MIG जानकारी नीचे दी गई हैं:
  • In-situ rehabilitation of slum dwellers using land resource by collaborating with private organisations: इसका लक्ष्य झुग्गियों से घिरी जगहों का इस्तेमाल करना है और योग्य परिवारों या व्यक्तियों को दूसरी जगह मकान उपलब्ध कराकर झुग्गी-झोपड़ियों को औपचारिक शहरी बस्ती में लाना है। झुग्गी में रहने वाले लोगों को घर के लिए एक लाख रू. भी दिए जाएंगे।
  • Affordable Housing in Partnership with Public & Private Sectors: यह PMAY कारक EWS परिवारों को केंद्र सरकार की ओर से 1.5 लाख रू. की आर्थिक सहायता प्रदान करता है। राज्य और केन्द्र शासित प्रदेश ऐसी आवास योजनाओं को विकसित करने के लिए अपनी एजेंसियों या निजी क्षेत्र के साथ पार्टनरशिप कर सकते हैं।
  • Subsidy for beneficiary-led individual house construction/enhancement: पीएम आवास योजना का यह कारक EWS परिवारों की आवास आवश्यकताओं को पूरा करता है जो अन्य तीन कारकों के तहत लाभ नहीं उठा सकते हैं। ऐसे लाभार्थियों को, केंद्र सरकार 1.5 लाख रु. तक की आर्थिक सहायता प्रदान करती है, जो लाभार्थी घर के निर्माण या घर में मरम्मत के लिए इस्तेमाल कर सकते हैं।

Particulars

EWS

LIG

MIG I
MIG II

Household Income

Up to Rs. 3 Lakh

Rs. 3 – 6 Lakh

Rs. 6 – 12 Lakh
Rs. 12 – 18 Lakh
Interest Subsidy

6.50%

6.50%

4.00%

3.00%

Eligible Loan Amount for Subsidy Calculation

Up to 6 Lakh

Up to 6 Lakh

Up to 9 Lakh

Up to 12 Lakh

Maximum Subsidy

Rs. 2,67,280

Rs. 2,67,280

Rs. 2,35,068

Rs. 2,30,156

Maximum Loan Tenure

20 yrs.

20 yrs.

20 yrs.

20 yrs.

Maximum carpet area

30 sq. m.

60 sq. m.

160 sq. m.

200 sq. m.

Discount Rate for NPV Calculation of Interest Subsidy

9.00%
9.00%
9.00%
9.00%

Application of scheme on existing home loans sanctioned on or after

17.06.2015

17.06.2015
01.01.2017
01.01.2017

Woman Ownership/Co-ownership

Mandatory for a new house. Not mandatory for an existing property

Mandatory for a new house. Not mandatory for an existing property
Not Mandatory
Not Mandatory

Process to Apply for Pradhan Mantri Awas Yojna (PMAY) – आवेदन करने की प्रक्रिया

नए आवेदकों के लिए PMAY आवेदन प्रक्रिया

  • PMAY के लिए ऑनलाइन आवेदन करने के लिए, प्रधानमंत्री आवास योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं
  • “Citizen Assessment” मेन्यू के तहत “Benefit under other 3 components” विकल्प चुनें
  • अपना12 अंकों का आधार नंबर दर्ज करें
  • आपके आधार नंबर के सफल वैरिफिकेशन के बाद आपको PMAY आवेदन पेज पर भेज दिया जाएगा
  • अपनी व्यक्तिगत जानकारी, आय डिटेल्स और बैंक अकाउंट डिटेल्स जैसी आवश्यक डिटेल्स दर्ज करें
  • “I am aware of…” चेक बॉक्स पर टिक करें
  • कैप्चा दर्ज करें और “Save” बटन पर क्लिक करें
  • “Save” विकल्प पर क्लिक करने के बाद एक सिस्टम जेनरेट किया गया एप्लिकेशन नंबर दिखाई देगा, जिसे आप भविष्य के लिए संभाल कर रख सकते हैं
  • भरे हुए आवेदन पत्र को डाउनलोड करें और प्रिंट करें
  • सहायक दस्तावेजों के साथ अपने नज़दीकी कॉमन सर्विस सेंटर (CSC) या वित्तीय संस्थान / बैंकों में फॉर्म जमा करें

Existing Home Loan Borrowers – मौजूदा होम लोन लेने वाले व्यक्ति

होम लोन लेने वाले व्यक्ति जो PMAY सब्सिडी के लिए योग्य हैं, लेकिन होम लोन लेते समय उन्होंने इसका लाभ नहीं लिया है, अपना आवेदन जमा कर सकते हैं। बैंक आपके आवेदन की समीक्षा करेगा और नेशनल हाउसिंग बैंक (NHB) को क्लेम प्रस्तुत करेगा। डेटा वैरिफिकेशन और अन्य जांचों के बाद, NHB उस बैंक को राशि वितरित करेगा जो आवेदक से जुड़े होम लोन अकाउंट में क्रेडिट करेगा, इसके बाद जो लोन के साथ मिल जाएगा।

प्रधानमंत्री आवास योजना से जुड़े बैंकों / NBFC की लिस्ट

SBI

HDFC

Bank of Baroda

ICICI Bank Ltd.

Axis Bank Ltd.

             Karnataka Bank Ltd.

Karur Vysya Bank Ltd.

            LIC Housing Finance
Bajaj Housing Finance Limited
          Kotak Mahindra Bank

                   Yes Bank

                    Fullerton

                  Indiabulls

                     IIFL

               Federal Bank

FAQs – संबंधित सवाल

प्रश्न. क्या PMAY आवेदन के समय कोई शुल्क लागू हैं?

उत्तर: हां, आवेदन फॉर्म जमा करने के समय आपको मामलू शुल्क 25 रूपए के साथ जीएसटी का भुगतान करना होगा। योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन करने वाले संभावित लाभार्थियों को भुगतान करने की आवश्यकता नहीं है।

प्रश्न: क्या आधार नंबर के बिना योजना के लिए आवेदन करना संभव है?

उत्तर. ऑनलाइन आवेदन करने के लिए आधार नंबर अनिवार्य है। व्यक्ति अपने नजदीकी CSC से आधार कार्ड के लिए आवेदन कर सकते हैं। अपने नज़दीकी CSC का पता लगाने के लिए यहां क्लिक करें ।

प्रश्न. PMAY सब्सिडी के स्टेट्स की ऑनलाइन जांच कैसे करें?

उत्तर: प्रधानमंत्री आवास योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं।

  • “Citizen Assessment” मेनूके तहत “Track Your Assessment Status” विकल्प चुनें
  • एकबार जब आप विकल्प चुनते हैं, तो आपको ट्रैक आकलन फॉर्म पर पुन र्निर्देशित किया जाएगा
  • अपनेनाम, पिता का नाम और आईडी प्रकार या मूल्यांकन आईडी का उपयोग करके अपनी मूल्यांकन स्थिति को ट्रैक करें
  • आवश्यक डिटेल्स दें
  • परिणाम दिखाई देगा